स्टॉफ को खाना देने के बहाने बैंक में एंट्री ले रहे लोग

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 500 और एक हजार रुपये के पुराने नोट बंद किए जाने के बाद जहां पूरा देश बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतारों में खड़ा है, वहीं दूसरी ओर अपना काला धन सफेद करने के लिए बैंक में प्रवेश पाने के लिए जुगाड़ भी हावी है। आलम यह है कि बैंक स्टॉफ तक पहुंचने के लिए लोग खाना पहुंचाने व चाय आदि देने के नाम पर अंदर प्रवेश पाने में लगे हुए हैं।
चांदनी चौक के एक धन्ना सेठ शुक्रवार दोपहर को हाथ में टिफन लिए कुछ इसी तरह पंजाब नेशनल बैंक पहुंचे। बैंक के बाहर करीब 200 मीटर लंबी कतार होने के कारण उन्हें अंदर प्रवेश नहीं मिलने का डर सताने लगा। उन्हें लगा कि नंबर आते-आते श्याम हो जाएगी और तब तक बैंक बंद हो जाएगा। बस फिर क्या था। बैंक स्टॉफ के लिए लंच लाने की बात कहकर वह सीधे गेट पर पहुंच गए। लंबी कतार में खड़े कुछ लोगों ने इसका विरोध भी किया, परन्तु मामला बैंक कर्मचारी से जुड़ा होने के कारण वे भी कुछ नहीं बोल सके। गार्ड ने भी उन्हें अंदर प्रवेश दे दिया।
अंदर पहुंचते ही उन्होंने अपनी काली कमाई के नोट निकाल लिए और लाइन में लगकर रुपये जमा कराने का प्रयास किया। हालांकि इन जनाब का झूठ ज्यादा समय तक नहीं टिक सका। कुछ लोगों ने उन्‍हें पहचान लिया और वे विरोध करने लगे। उन्हें तुरंत ही बैंक से बाहर निकाल दिया गया।
स्थानीय महिला खालिदा बेगम ने बताया कि इस तरह टेढ़े रास्तों से बैंक में प्रवेश पाने का सिलसिला सुबह से ही जारी है। कोई चाय पिलाने के बहाने अंदर जाने का प्रयास कर रहा है तो कोई बिस्कुट नमकीन देने के बहाने गेट तक आ जाता है। 65 वर्षीय बुजुर्ग रमेश बताते हैं कि कुछ लोगों के बैंक कर्मियों से सीधे संबंध हैं। लाइन में लगे लोग विरोध न करें इसके लिए वे अंदर प्रवेश पाने के लिए खाना, चाय व अन्य सामान लाने जैसे तरीके अपना रहे हैं।

Leave a Comment